High Quality Backlink Kaise Banaye? – जानिए पूरी जानकारी

High Quality Backlink Kaise Banaye : बैकलिंक, सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (SEO) का एक बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा है जो एक ब्लॉग या वेबसाइट को दूसरे वेबसाइट से जोड़ने में मदद करता है यह एक कड़ी की तरह काम करता है, इससे उस वेबसाइट की अथॉरिटी बढ़ती है और सर्च इंजन में उस वेबसाइट की रैंकिंग बढ़ती |

किसी भी वेबसाइट के लिए बैंक लिंक उसके SEO के लिए बहुत ही जरूरी है |इस आर्टिकल में मैं आपको बताने वाला हूं, बैकलिंक क्या हैं? बैकलिंक बनाने के फायदे क्या होते हैं? और इसके साथ-साथ आप High Quality के बैकलिंक्स कैसे बना सकते हैं? इस आर्टिकल में मैं आपको Detail में बताऊंगा,तो इसके लिए आर्टिकल को पूरा पढ़ें, क्योंकि अगर आप एक ब्लॉगर हो तो आपके लिए यह जानना बहुत ही ज्यादा जरूरी है |

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now

Read More :

बैकलिंक क्या है (Backlink Kya Hai)

बैकलिंक एक ऐसा Hyperlink होता है जो एक वेबसाइट से दूसरी वेबसाइट को जोड़ता है। बैकलिंक का Use सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (SEO) में किया जाता है, जिस्मे वेबसाइट के सर्च इंजन रैंकिंग को बेहतर करने के लिए दूसरी वेबसाइट्स से बैकलिंक्स बनते जाते हैं।

बैकलिंक्स वेबसाइट की Credibility और Authority को भी बढ़ाते हैं, क्योंकि अगर कोई दूसरी वेबसाइट आपकी वेबसाइट से रिलेटेड इंफॉर्मेशन प्रोवाइड कर रही है, तो ये सर्च इंजन के लिए एक पॉजिटिव सिग्नल होता है। इसलिए, बैकलिंक्स की गुणवत्ता और मात्रा वेबसाइट के SEOप्रदर्शन पर बहुत प्रभाव डालते हैं।

Domain Authority Kaise Badhaye? इन 11 बेहतरीन तरीका द्वारा

हम मान लेते हैं एक वेबसाइट आपकी है, और एक वेबसाइट आपके दोस्त की है, तो हम क्या करते हैं आपके दोस्त की जो वेबसाइट है उस पर कोई आर्टिकल है जिसमें उसने किसी चीज के मोबाइल के बारे में बताएं Suppose करो Top Ten Mobile Under $50. और आपने अपनी वेबसाइट पर आर्टिकल डाला है, Top 10 Mobiles Under 10 Thousand.

तो जो आप का दोस्त है वह क्या करता है आपने आर्टिकल के जो अपना आर्टिकल लिखा हुआ उसमें लास्ट में एक लिंक डाल देता है रीड मोर टॉप टेन मोबाइल अंडर टेन थाउजेंड और उस पर लगा देता है आपकी वेबसाइट वेबसाइट का,आपके दोस्त के वेबसाइट पर लोग आ रहे थे पढ़ने, तो हो सकता है कि आपके वेबसाइट का जो लिंक वहां पर लगा हुआ है,

उस पर क्लिक करेंगे और आपके वेबसाइट पर आ जाएंगे, अब जो आपके दोस्त वेबसाइट पर जो लिंक लगा है उसे Backlink कहते हैं | तो एक होता है बैंकलिंक, जो दो वेबसाइट के बीच एक रास्ते का काम करता है उसको हम बोलते हैं Backlinks. तो दोस्तों अब आप जान चुके हो बैकलिंक्स होता क्या है? 

अब मैं आपको बताता हूं, बैकलिंक बनाने का फायदा क्या होता है? अब देखिए – एक आपकी वेबसाइट है एक वेबसाइट विकीपीडिया जिसके बारे में सब जानते हैं, गूगल में बहुत अच्छे से Rank करता है और एक बहुत ही बड़ी वेबसाइट है | और आपकी वेबसाइट है जो गूगल में नहीं Rank करता है Google उसको भी नहीं जानता ढंग से,

तो आप क्या करोगे इस चीज में अगर आप अपनी वेबसाइट का लिंक विकिपीडिया के किसी आर्टिकल में डाल देते हो, तो गूगल क्या करेगा गूगल विकीपीडिया को बहुत अच्छे से जानता है उस पर ट्रस्ट करता है, उस पर करोड़ों का ट्रैफिक गूगल से आता है और जब ओ देखेगा कि किसी आर्टिकल में आपकी वेबसाइट का लिंक है |

तो गूगल को क्या लगेगा कि, विकिपीडिया पर आपकी वेबसाइट का लिंक है, इसका मतलब आप की वेबसाइट भी अच्छी है, क्योंकि विकीपीडिया पर ऐसे ही किसी का लिंक नहीं होगा | तो गूगल आपकी वेबसाइट पर भी ट्रस्ट करेगा | जो विकिपीडिया पर ट्रस्ट कर रहा है |

और उससे फायदा क्या होगा विकिपीडिया पर जो लोग आएंगे उस आर्टिकल को वे लोग पढ़ेंगे जिसमें आपका वेबसाइट का लिंक है | तो कुछ लोग Suppose करो 50000 लोग आ रहे हैं 50000 में से 10000 लोग उस लिंक पर क्लिक करेंगे आपकी वेबसाइट पर आ जाएंगे डायरेक्ट आपको ट्रैफिक मिलेगा विकिपीडिया से |

दूसरा फायदा क्या है गूगल का | गूगल विकिपीडिया पर ट्रस्ट करता है, और वह जब देखेगा कि विकिपीडिया ने आपका लिंक लगाया हुआ है | तो वह क्या करेगा, की जो वाह ट्रस्ट विकिपीडिया पर करता था वह आपके वेबसाइट पर भी ट्रस्ट करेगा आपके वेबसाइट को भी Rank करेगा |

इसलिए बोलते हैं कि जो बैकलिंक्स है वह ऐसी जगह बनानी चाहिए जीनेसे फायदे हो | अगर आप उल्टी-सीधी जगह बनाओगे फायदा होने की वजह नुकसान हो जाएगा Spam में आ जाओगे और गूगल आपकी वेबसाइट को कभी Rank नहीं करेगा | 

तो यह दो फायदे हैं जो बैकलिंक्स बनाने से होते हैं, इससे हमारी तो साइट होती हमारा Blog होता है, उसकी रैंकिंग बहुत अच्छी हो जाती है |

बैकलिंक के प्रकार (Types of Backlink in Hindi)

Backlinks दो तरह के होते हैं | 

  1. Do-Follow Backlinks
  2. No-Follow Backlinks
  3. Internal Links
  4. External Links

1. Dofollow Backlinks

Dofollow Backlink एक ऐसा हाइपरलिंक होता है जो सर्च इंजन क्रॉलर्स को फॉलो करने और हमें पेज के अथॉरिटी और क्रेडिबिलिटी को एंडोर्स करने के लिए बनाता है। जब कोई वेबसाइट डू-फॉलो बैकलिंक को ऐड करता है, तो वो सर्च इंजन को बताता है कि हमारा पेज पर लिंक किया गया कंटेंट से संबंधित है और हमारे कंटेंट में वैल्यू या महत्व है।

डू-फॉलो बैकलिंक्स के लिए एक विशिष्ट HTML attribute होता है, जिसे “rel” एट्रीब्यूट कहा जाता है और उसमें “डॉफॉलो” वैल्यू दिया जाता है। डू-फॉलो बैकलिंक्स का इस्तेमाल सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (SEO) के लिए किया जाता है, जिसमें हाई-क्वालिटी और ऑथरेटिव वेबसाइट्स से डू-फॉलो बैकलिंक्स बनते हैं ताकि वेबसाइट के सर्च इंजन रैंकिंग को बेहतर किया जा सके।

लेकिन, डू-फॉलो बैकलिंक्स के क्वालिटी और क्वांटिटी का ध्यान रखना चाहिए, क्योंकि लो-क्वालिटी और स्पैमी डू-फॉलो बैकलिंक्स आपकी वेबसाइट के लिए हानिकारक हो सकते हैं और सर्च इंजन रैंकिंग को भी नकारात्मक प्रभाव दे सकते हैं। इसलिए, हमेशा हाई क्वालिटी वाली और प्रोफेशनल वेबसाइटों से डू-फॉलो बैकलिंक्स बनाना चाहिए।

हमें क्या Focus करना हुडा है कि, हमें Do-Follow Backlinks बनाने होते हैं | क्योंकि Do-Follow Backlinks बनाना से हमारे Blog की Ranking काफी अच्छी होती | तो अभी हम इसको ज्यादा Technical में नहीं लेकर जानते हैं की Do-Follow क्या होता है? No-Follow क्या होता है? बस हमें इतना जाने की Do-Follow बैकलिंक्स हमारे Blog के लिए अच्छे होते हैं | 

2. Nofollow Backlinks

Nofollow Backlinks एक ऐसा लिंक होता है जिसमें “rel” एट्रीब्यूट के जगह “nofollow”  एट्रिब्यूट होता है। ये एट्रीब्यूट सर्च इंजन को बताता है कि हमें लिंक के साथ फॉलो करना चाहिए या नहीं। Nofollow backlinks अक्सर स्पैमी कमेंट्स, पेड लिंक्स, स्पॉन्सर्ड कंटेंट, यूजर-जनरेटेड कंटेंट वगैरह में इस्तेमाल किए जाते हैं।

Nofollow backlinks का यूज़  मुख्य रूप से उस content को आइडेंटिफाई करने के लिए किया जाता है, जिस्मे वेबसाइट ओनर को पुलिस कंटेंट से कोई विज्ञापन या अथॉरिटी नहीं देना होती है। ये बैकलिंक्स आपकी वेबसाइट के लिए कोई डायरेक्ट SEO वैल्यू नहीं रखते हैं, क्योंकि सर्च इंजन इनको फॉलो नहीं करते हैं और इनके पास इक्विटी पास नहीं होती है।

लेकिन, नोफॉलो बैकलिंक्स का इस्तेमाल भी जरूरी है, क्योंकि ये आपकी वेबसाइट के लिए स्पैमी एक्टिविटीज से बचने में मदद करते हैं और आपकी वेबसाइट की क्रेडिबिलिटी और अथॉरिटी को मेंटेन करते हैं। इसलिए, आपको हमेशा हाई-क्वालिटी और प्रोफेशन वेबसाइट्स से डू-फॉलो बैकलिंक्स और नोफॉलो बैकलिंक्स बनाना चाहिए, ताकि आपकी वेबसाइट के सर्च इंजन रैंकिंग और विजिबिलिटी में सुधार हो सके।

High Quality Backlink Kaise Banaye

अब बात आती है कि इतना तो हो गया  बैकलिंक्स पता लग गया, फायदे पता लग गए, कितनी तरह के होते हैं? यह भी पता लग गया अब बात आती है बनाने कैसे हैं? वह मैं आपको Step-by-Step बताता हूं कि, किन-किन तरीकों से आप Do-Follow Backlinks अपने Blog के लिए बैकलिंक्स सकते हो |

तो सबसे पहले Rule बताऊंगा आपको मैं | उस रूल को थोड़ा सा ध्यान रखना आप जिस भी टॉपिक पर आपका ब्लॉग है सपोज करो टेक्नोलॉजी के बनाते हो ब्लॉग, तो आप जो भी Backlinks बनाओगे Other Website के ऊपर, तो वह ध्यान रखना वो टेक्नोलॉजी से जुड़ी होनी चाहिए |

ऐसा ना हो कि आप टेक्नोलॉजी पर ब्लॉग बना रहे हो, और बैकलिंक्स के लिए आपने किसी ऐसी वेबसाइट में जो की खाने की रेसिपी वगैरा डाले | उससे आपको कोई फायदा नहीं होगा कोई रैंकिंग अच्छी नहीं होगी कुछ फायदा नहीं होगा | 

इसीलिए पहला रूल यह है जब भी बैकलिंक्स बनाओ जिस टॉपिक पर काम करते हो उसी से रिलेटेड टॉपिक पर जितनी वेबसाइट है उनके साथ Backlinks बना और वह देख लेना कि वह वेबसाइट अच्छी होनी चाहिए होना चाहिए |  उनका Rank होना चाहिए गूगल मैं |

1. दूसरे वेबसाइट पर Backlinks बनाए

तो सबसे पहला तरीका होता है Backlinks बनाने का वह होता है, आपको गूगल पर जाना है गूगल पर जाने के बाद किसी भी टॉपिक पर आप काम कर रहे हो उसी चीज से रिलेटेड कोई आर्टिकल गूगल पर सर्च करना है, उसके बाद आपके सामने बहुत सारी वेबसाइट खोलेंगे इनमें से आप को एक-एक करके वेबसाइट ओपन करनी है इनके बारे में को पढ़ना है कि उन्होंने लिखा क्या हुआ हुआ है |

क्योंकि अगर वैसे ही बिना पढ़े कमेंट कर दोगे बैकलिंक लेने के चक्कर में तो उससे कोई फायदा नहीं होगा, ऐसे ही उल्टे सीधे कमेंट करोगे | जिसकी वेबसाइट होगी वह आपको Approve नहीं करेगा | तो जब पढ़ लेते हो थोड़ा उसके बादआपको इसमें कमेंट लिखना है उसके बाद आपको वहां पर अपना ईमेल डाल देना, अपना नाम डाल देना, और इसके बाद आपकी वेबसाइट पर जो रिलेटेड आर्टिकल लिखा हुआ है उसका लिंक कॉपी करके डाल देना, और अपने कमेंट को पोस्ट कर देना |

 तो यहां से आपको एक Do-Follow Backlinks मिल जाएगा | और ऐसी वेबसाइट के ऊपर जो कि आपके टॉपिक से रिलेटेड जिससे अगर यह वेबसाइट Google में Rank करेगी तो आपकी वेबसाइट भी Rank  करने लग जाएगी | तो यह था पहला तरीका जो होता है कमेंट के जरिए आपको ऐसी वेबसाइट Find करनी है सर्च कर कर के जो गूगल के पहले पेज पर आ रही हैं दूसरे पर आ रही हो उनके आर्टिकल्स को पढ़े और इस तरह से बिल्कुल लास्ट में आकर कमेंट कर दें |

2. Quora से Backlinks बनाए

इसके बाद जो  दूसरा तरीका है High Quality Backlinks बनाने का वह है – Quora., Quora के बारे में आप सब ने सुना होगा, इस वेबसाइट पर करोड़ों का ट्रैफिक आता है | जहां पर लोग Questions पूछते हैं, और वहां पर आप उनके Answer  दे सकते हैं |

आप जिस भी Field में अपने ब्लॉग बनाया उसी के रिलेटेड आप Quora जाइए वहां पर अपने ब्लॉग के रिलेटेड Questions Search कीजिए, वहां पर आपको काफी सारे Questions होंगे उनके Answer कीजिए उस Answer में कम से कम 100-150 वर्ड का लिखें, उसके बाद उसमें अपने किसी आर्टिकल का लिंक दे दे | अब जो लिंक आप दोगे वह उसी क्वेश्चन से रिलेटेड होना चाहिए | 

इसीलिए मैं बोल रहा हूं जिस टॉपिक पर आपने ब्लॉग बनाया है और आपने आर्टिकल्स लिखे उसी से रिलेटेड Quora पर जाकर Question के Answer  करें और उनके आंसर में अपने Blog आर्टिकल का लिंक दे दें | इससे क्या होगा की Quora पर आपको एक Backlink मिल जाएगा, और Quora एक बहुत ही तगड़ा लेवल की वेबसाइट है जहां पर करोड़ों में ट्रैफिक और गूगल के अंदर बहुत अच्छी तरीके से Rank है, और वहां पर Backlink मिलेगा | और आपको इससे बहुत ही फायदा होने वाला है | 

3. Guest Post द्वारा Backlinks बनाए 

तीसरा Step है, जो सबसे बेस्ट तरीका है वह है Guest Post | Guest Post क्या होती है? तो मैं आपको बता दूं आपको करना क्या गूगल पर सर्च करना है जो आपकी Category से रिलेटेड काफी सारे Blog आपको मिल  जाएंगे |  उन पर आपको क्या करना है, उन पर आपको Contact Us के Option में जाना है,

वहां पर आपको ईमेल मिलेगा या फिर फोन नंबर मिल जाएगा, उनसे बात करें ईमेल और फोन नंबर के जरिए और उनको बोले कि मैं आपकी साइट पर कुछ Guest Post लिखना चाहता हूं | तो Guest Post में करोगे अगर वह Approve कर देंगे |

तो उसमें आप क्या करोगे आप एक बहुत अच्छी सी 1000+ Words की पोस्ट लिखोगे और वेबसाइट ऐसी ले जो गूगल में Rank हो | क्योंकि आप सर्च करके जाओगे गूगल से तो ऐसी वेबसाइट मिलेगी जो रैंक हो गई तो आपको एक बहुत ही बढ़िया आर्टिकल लिखना 1000+ Words का और उनको ईमेल करके भेज देना उसमें आपको अपने सिर्फ एक लिंग डालने अपनी वेबसाइट का और वो उनको भेज देना तो वह उस आर्टिकल को अपनी वेबसाइट पर डाल देंगे और आपको Do-Follow Backlink High Quality का मिल जाएगा |

इस तरीके से आप Other Blogger से बात कर सकते हो, 

तीसरी जो चीज होती है वह होती है आप अपनी Category के जो Blogger  है उनसे बात करो | उनको बोलो कि आप मेरे ब्लॉग का लिंक आपने ब्लॉग में डाल लो |यह भी एक तरीका है कि आप इस तरह से Collab करके अपना दूसरों के ब्लॉग पर डाल सकते हैं | 

4. Pinterest द्वारा Backlinks बनाए 

इसके बाद जो 4th तरीका है वह है, Pinterest. पिंटरेस्ट एक बहुत ही बड़ा सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फोटोस और वीडियोस के लिए यहां पर जब आप अपनी प्रोफाइल बनाओगे,  उस प्रोफाइल के अंदर आप फ्री में अपना जो बैकलिंक है जो अपनी वेबसाइट का लिंक है उसको डाल सकते हो आपको Do-Follow Backlinks मिल जाएगा | जिससे आपका जो High Quality का Backlink मिलेगा उससे आप की रैंकिंग में जरूर फरक पड़ेगा |

इसके बाद दोस्तों जो मैं आपको लास्ट पॉइंट मैं आपको बताना चाहूंगा वह है, इंस्टाग्राम, फेसबुक, इत्यादि जितने भी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म है | आपको सभी पर अपनी प्रोफाइल बनानी है जिस नाम से अपने अपना Blog बनाया है,

उसकी बायो में उसके अकाउंट में आप अपने ब्लॉग का लिंक डाल सकते हो और यह सारी जो बड़ी-बड़ी सोशल मीडिया साइट्स होते हैं आपको पता ही है गूगल में कितने अच्छे से Rank है, और यहां पर आपको लिंक मिल जाएगा जरूरी नहीं आपको सारे Do-Follow Backlinks लेने हैं | कुछ वेबसाइट पर आप No-Follow भी ले सकते हो | तो उससे क्या होगा आपकी वेबसाइट धीरे-धीरे करके गूगल में Rank करने लगेगी |

Conclusion – बैकलिंक कैसे बनाते हैं?

आज के इस आर्टिकल में हमने सिखाती Backlink क्या है?, Backlinks क्या होते हैं?, Backlinks कितने प्रकार के होते हैं, Backlinks कैसे बनाएं?  कहां से बना है? 

Backlinks हमारे Blog SEO, Ranking  के लिए बहुत महत्वपूर्ण है |  बैकलिंक्स बनाने से हमारे वेबसाइट की google में Ranking  होती है, और काफी ज्यादा ट्रैफिक मिलती है  | 
अगर आप अपने Blog Website को Grow  करना चाहते हो तो एक High Quality Backlinks बनाएं |

Sharing Is Caring:

2 thoughts on “High Quality Backlink Kaise Banaye? – जानिए पूरी जानकारी”

Leave a Comment